मांसाहार पर मेनका का बयान, पहले आप मांस खाते हैं फिर वह आपको खाता है

Courtesy:
September 22, 2017

सोमवार को केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने कहा कि पहले हम मीट (मांस) खाते हैं फिर मीट (मांस) हमें खाता है. मयंक जैन द्वारा निर्देशित फिल्म “द एवीडेंस-मीट किल्स” फिल्म के लॉन्च पर महिला एवं बाल विकास मंत्री ने कहा कि मीट सेहत के लिए नुकसानदायक है.

महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा कि पिछली तीन दशकों में हुई स्टडी के अनुसार मांसाहार मनुष्य के लिए फायदेमंद नहीं है. हमारे शरीर का सारा अंग इस तरह से है जो शाकाहार को पचाने के लिए बना है. जब हम मांसाहार भोजन करते हैं तो हमारे अंदर बीमारियां आ जाती हैं.

फिल्म के लॉन्च के बारे में उन्होंने कहा कि इसका उद्देश्य लोगों द्वारा मांसाहार खाने पर रोक लगाना नहीं है, बल्कि उन्हें मांसाहार के फायदे व नुकसान से अवगत कराना है. ये फिल्म डॉक्टरों द्वारा बनाई गई है ताकि लोगों को जागरुक बनाया जा सके.

केंद्रीय मंत्री ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि 5-6 वर्षों के मेडिकल की पढ़ाई के दौरान भोजन और आहार के बारे में मुश्किल से 1-2 घंटे ही पढ़ाया जाता है. आप उन्हें ये नहीं पढ़ाएंगे कि क्या खाना ठीक है और क्या नहीं तो मेडिकल की पढ़ाई का क्या लाभ है?

उन्होंने कहा कि आजकल एंटीबायोटिक व हॉर्मोन का प्रयोग न सिर्फ चिकन के लिए किया जा रहा है बल्कि पूरी मीट इंडस्ट्री के लिए किया जा रहा है. ये एंटीबायोटिक लोगों के लिए बहुत नुकसानदायक है. हालांकि, इन एंटीबॉयोटिक्स पर रोक लगी है और लोग इसका प्रत्यक्ष रूप से प्रयोग नहीं कर सकते पर मांसाहार की वजह से लोगों में ये अप्रत्यक्ष रूप से पहुंच जाता है. ये फिल्म कसाइयों के स्वास्थ्य के बारे में भी बताती है जो अपना अधिकतर समय कसाईखानों में एक हिंसक माहौल में बिताते हैं.

©copyright 2018. All Rights Reserved by Meatkills